CBSE Toppers Success Mantra – सीबीएसई टोपेर्स छात्रों ने बताए सफलता के राज

CBSE Toppers Success Mantra

क्या आप भी जानना चाहते हैं कि परीक्षा में टॉप करने वाले छात्रों ने कैसे यह कारनामा करके दिखाया है l तो आज हम आपके लिए सीबीएसई बोर्ड 2019 के टोपेर्स की सफलता की कुन जी आपको बताने जा रहे हैं l जिससे आप भी कुछ न कुछ सीख सकते हैं और अपनी परीक्षाओं में अच्छे नंबर प्राप्त कर सकते हैं l

सीबीएसई बोर्ड रिजल्ट 2019 –  CBSE Result 2019

इस बार सीबीएसई में  500 में से 499 अंक लाकर 13 छात्र-छात्राओं ने पहले स्थान पर परचम लहराया है  l 2019 में 18 लाख से ज्यादा छात्र-छात्राओं ने परीक्षा दी थी l इनमें से 91.10 फीसदी पास हुए हैं। परीक्षा में जहां पहले स्थान पर 13 छात्र-छात्राएं रहे वहीं दूसरे स्थान पर 598 अंक लाकर 25 छात्र-छात्राएं रहे। वहीं, 497 अंक लाकर 59 छात्र-छात्राएं तीसरे स्थान पर रहे।

सीबीएसई टोपेर्स छात्राओं ने बताए सफलता के राज – CBSE Toppers Success Mantra 2019-
  • 500 में से 499 अंक लाने वाली दिल्ली की तरु जैन  ने कहा कि वह रोजाना चार से पांच घंटे पढ़ाई करती थीं। और पूरे मन से अपने पर्श्नो से सम्बंधित जानकारियों पर ध्यान देती थी  l आप भी केवल परीक्षा के समय पढाई में ध्यान देने के बजाए  पूरे वर्ष एक रूटीन बनाये l जिससे आपको पाठ को रिवीजन करने में आसानी हो जायगी l
  • ईश मदान ने भी 500 में से 499 अंक प्राप्त किये हैं lऔर टोपेर्स की लिस्ट में अपना नाम रोशन किया है l इश ने बताया की वह  रोजाना 6 से 7 घंटे पढ़ाई करते थे।और  परीक्षा के समय में उन्होंने सोशल मीडिया से दूरी बना ली थी। खुद को रिलैक्स रखने के लिए रोजाना एक घंटा टेबल टेनिस और क्रिकेट खेलते थे। अगर आप भी सोशल मिडिया का उपयोग कुछ कम कर दें और अपनी पढाई पर पूरे मैन से ध्यान डे तो आपको भी टॉप करने से कोई नहीं रोक सकेगा l आप भी अपना और अपने माता पिता का नाम रोशन कर सकोगे l थोड़ा बहुत रिलैक्स करने के लिए आप सोशल मिडिया या कोई भी मनोरंजक खेल खेल सकते हैं l
  • सीबीएसई दसवीं की बोर्ड परीक्षा में ऑल इंडिया टॉपर में शामिल मेरठ के वत्सल वार्ष्णेय ने 500 में से 499 अंक हासिल किए हैं। उन्होंने बताया की उन्होंने समय का सही उपयोग किया l सोशल मीडिया में भी केवल व्हाट्सएप का प्रयोग करते थे l और यह भी  केवल पढ़ाई और एजुकेशन ग्रुप तक सीमित रहा । वत्सल ने पांच में से चार विषयों में पूरे 100 अंक लिए हैं।  वत्सल ने बताया की उन्होंने  बिना कोचिंग के यह सफलता हासिल की है।

सम्बंधित पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.