ENT क्या है | ENT Full Form in Hindi

नमस्कार दोस्तों ! आज हम आपको मेडिकल फिल्ड में उपयोग होने वाले एक महत्वपूर्ण शब्द की पूरी जानकारी दे रहे हैं | आज हम आपको बतायंगे कि ENT क्या है | ENT Full Form |  ENT Specialist डॉक्टर | ENT से जुड़ी बीमारियाँ क्या हैं | जैसे की आपको पता हैं जब भी आप हॉस्पिटल जाते हैं तो वहाँ आपको हर डॉक्टर के अलग अलग विभाग दिखायीं देते होंग़े जैसे बच्चों का डॉक्टर, कर्डिओ विभाग आदि और भी आपको दिखाए देते होंग़े । ऐसे ही एक विभाग होता हैं ENT विभाग ।

ENT Full Form

तो आईए बताते हैं आखिर ENT होता क्या है |

ENT क्या है | ENT Full Form

दोस्तों ENT अंग्रेजी के तीन शब्दों को मिलाकर बनाई हुई एक शोर्ट फॉर्म है | जिसमें तीनो शब्दों के अलग अलग अर्थ इस प्रकार है –

  • E- EAR
  • N- NOSE
  • T- THROAT

इस प्रकार ENT का फुल फॉर्म होता है “Ear, Nose, and Throat” | और ENT का हिंदी में मतलब होता है “कान, नाक और गला” ।

य़े एक तरह की OTOLARYNGOLOGY चिकित्सा की शाखा होती हैं । जिसके द्वारा हम हमारे होने वाले कान, नाक और गले की बीमारियों को जान कर उसके स्पेशलिस्ट (ENT Specialist) को दिखा सकते हैं ।

अस्पताल में ENT की जरूरत क्यों पड़ी?

इसकी जरूरत अस्पताल में इसलिए पड़ी क्योंकि जब भी मरीज अस्पताल में आता हैं तो जिस बीमारी से वो ग्रस्त हैं वहाँ आकर उसको अपने डॉक्टर को इतने बड़े अस्पताल में भटकना ना पड़े और उसका ईलाज सही समय में करा सके । इसलिए अस्पताल में अलग अलग डॉक्टर्स के विभाग बनाए गए हैं ।

क्या ENT का भी अलग डॉक्टर होता हैं? ENT Specialist

जी हैं आपको बता दे की जिस तरीके से दिल का डॉक्टर, पेट का डॉक्टर, हड्डी का डॉक्टर आदि होते हैं उसी तरह कान, नाक,और गले का भी एक डॉक्टर होता हैं जो इन सब से जुड़े बीमारियों को समझ कर इनका ईलाज करता हैं । जिन्हें हम ENT Specialist कहते हैं | जब किसी के गले, कान या नाम में परेशानी होती है तो वह इन्टरनेट पर भी ENT Specialist Near Me या Ent hospital near me गूगल पर सर्च करता है |

ENT से जुड़ी बीमारियाँ क्या- क्या हैं?

इससे जुड़ी बीमारी इस प्रकार हैं जैसे-

गले में दर्द
• खाना निगलने में तकलीफ़ होना ।
• कानों में ठीक से सुनायी नही देना ।
• गले का टॉन्सिल बढ़ जाना ।
• नाक में कोई खुशबू का ना आना ।
• कान में दर्द ।

आदि होना कुछ प्रमुख बीमारियाँ हैं ।

ENT में क्या चेक किया जाता है ?

कान

इसमें य़े देखा जाता हैं की कही आपके कान में पानी भरा हुआ तो नही हैं जिसके कारण आपको सुनायीं देने में तकलीफ़ तो नही हो रही हैं । या कोई कान में कुछ गन्दगी जमा तो नही हो रखा हैं जिसके कारण आपको कान में दर्द हो रहा हैं ।

नाक

इसमें य़े देखा जाता हैं की आपके नाक का सेप्टम टेड़ा तो नही हैं जिससे आपको सांस लेने में तकलीफ़ हो रही हैं ।
और या कुछ बीमारी जिसके कारण आपको खुशबू नही आ रही हैं ।

गले

इसमें गले के टॉन्सिल तो नही बड़ा हुआ हैं जिसके कारण आपको बुख़ार या दर्द हो रहा हैं ।

निष्कर्ष :

दोस्तों आज की पोस्ट में हमने आपको नाक, कान, गले से जुड़े एक महत्वपूर्ण शब्द ent के विषय में बताया है  | आज की पोस्ट में हमने जाना कि ENT क्या है | ENT Full Form |  ENT Specialist डॉक्टर | ENT से जुड़ी बीमारियाँ  कौनसी है |

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होतो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करें. अगर आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई सवाल है तो हमें जरुर लिखें,

हम अपने ब्लॉग ऑनलाइन जॉब अलर्ट के फ्री फॉर्मेट पोर्टल में हमेशा कुछ न कुछ उपयोगी जानकारी पोस्ट करते रहते हैं. इसीलिए आप हमारे ब्लॉग को जरुर सब्सक्राइब करें और हमारी मोबाइल एप को डाउनलोड करें.

जय हिन्द जय भारत

सम्बंधित पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *