BPT Full Form in Hindi | BPT क्या हैं

नमस्कार मित्रों ! आज की पोस्ट में हम आपको मेडिकल फिल्ड की एक उभरतते करियर के बारे में बताने जा रहे हैं |अगर दोस्तो अगर आप भी अपना करियर मेडिकल फील्ड में बनना चाहते हो तो आप BPT का कोर्स करके अपना य़े सपना पूरा कर सकते हो । जी हा आपने सही सुना य़े BPT एक ऐसा कोर्स हैं जिसे करके आप बाद में डॉक्टर जाने जाओगे। आज की पोस्ट में हम आपको बतायंगे कि BPT क्या होता है | B P T Full Form in Hindi (BPT ka full form) क्या होती है | फिजियोथेरपी क्या हैं| BPT Course Duration, आदि|

तो चलिए जानते हैं कि आखिर य़े कोर्स हैं क्या, और इसमें कौनसी बिमारी का इलाज होता है ।

BPT Full Form

यह भी पढ़ें :

BPT फुल फॉर्म | BPT Full Form in Hindi | बप्त फुल फॉर्म

मेडिकल फिल्ड में यूज़ होने वाले BPT शब्द का मतलब समझने से पहले आपको बताते हैं कि इसमें उपयोग हुए तीनों शब्दों का मतलब अलग अलग क्या होता है |

  • B- Bachelor
  • P- physiotherapy
  • T- Therapy

अब तीनो को मिलकर देखें तो BPT का फुल फॉर्म होता है “Bachelor of physiotherapy” | और BPT का हिंदी में मतलब होता है “शरीरिक स्नातक चिकित्सा” ।

BPT क्या हैं | BPT Meaning in Hindi | Bachelor of Physiotherapy Means

BPT य़े एक कोर्स हैं जिसे करने के बाद हम डॉक्टर बन जाते हैं । य़े कोर्स विज्ञान क्षेत्र से जुड़ा हुआ हैं | जो उन मरीजो का उपचार करता हैं जिन्हें दवाई के साथ साथ अन्य किसी भी तरह के शरीरिक व्यायाम, मालिश कि जरूरत पड़ती हैं ।

फिजियोथेरपी क्या है | Physiotherapy Ka Matlab Kya Hota Hai

इसे हम एक उदहारण से समझते हैं- जैसे किसी व्यक्ति का पैर फ्रक्चर हैं और डॉक्टर ने उसे बोला कि पलस्तर खुलने के बाद आपको अपने पैर कि फिजियोथेरपी करवानी पड़ेगी ,थोड़े समय के लिए तो इसका मतलब हैं कि आपको फिजियोथेरपी के द्वारा मालिश या थोड़ा व्यायाम करवाना पड़ेगा।

अब आप य़े सोचोगे कि य़े मालिश और व्यायाम तो खुद भी कर सकते हैं नही, आप खुद से ऐसा नही कर सकते क्यूंकि इसके भी बहुत तरीके होते हैं । जो एक फिजियो- थेरपीसट ही कर सकता हैं ।

फिजियोथेरपीसट क्या होता हैं ?

BPT का कोर्स (BPT Course) करने के बाद ही आप डॉक्टर यानी फिजियोथेरपीसट बन जाते हो ।

BPT कोर्स कि अवधि? BPT Course Duration

BPT का कोर्स 4 साल का हैं जिसमे 6 महीने का इण्टरशिप भी शामिल हैं ।

BPT कोर्स करने लिए शैक्षिक योग्यता ?

12 पास करने के बाद आप इस कोर्स को कर सकते हो । आपके पास साइन्स साइड होना आवश्यक हैं साथ ही कम से कम 50% अंक प्राप्त होना चाहिए।

BPT कोर्स करने के फायदे क्या हैं? BPT Course Scope

1. आप खुद का क्लीनिक भी खोल सकते हैं ।
2. आप किसी भी हॉस्पिटल के साथ जुड़ कर अपना काम कर सकते हो ।
3. इस कोर्स को करने बाद आप अंडर ग्रेजुयेट हो जाते हो ।
4. इस कोर्स को करने के बाद, विदेश में इसके कई स्कोप भी हैं ।

निष्कर्ष :

दोस्तों आज की पोस्ट में हमने आपको मेडिकल की फिल्ड की एक डिग्री के बारे में जानकारी दी है जिसकी डिमांड आजकल बहुत बढ़ने लगी है  | आज की पोस्ट में हमने जाना कि BPT क्या होता है | B.P.T Full Form in Hindi (B P T ka full form) क्या होती है | फिजियोथेरपी क्या हैं| BPT Course Duration, आदि  |

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होतो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करें. अगर आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई सवाल है तो हमें जरुर लिखें,

हम अपने ब्लॉग ऑनलाइन जॉब अलर्ट के फ्री फॉर्मेट पोर्टल में हमेशा कुछ न कुछ उपयोगी जानकारी पोस्ट करते रहते हैं. इसीलिए आप हमारे ब्लॉग को जरुर सब्सक्राइब करें और हमारी मोबाइल एप को डाउनलोड करें.

जय हिन्द जय भारत

सम्बंधित पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.