बैकलिंक क्या होता है | Backlink Kya Hai aur Kaise Banaye

Backlink Kya Hai aur Kaise Banaye

दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे की बैकलिंक क्या होता है? दोस्तो अगर आप लोग यह आर्टिकल पढ़ रहे हैं, तो जाहिर सी बात है की आप लोगो को वेबसाइट के बारे में जरूर जानते होंगे, और यह बैकलिंक भी वेबसाइट्स से जुड़ा हुआ एक महत्वपूर्ण पार्ट है, जिसे आज हम जानेंगे।

अगर आपको भी बैकलिंक के बारे में जानकारी हासिल करनी है तो आप बिल्कुल सही आर्टिकल पर आए हैं, क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि “बैकलिंक क्या है और क्वालिटी बैकलिंक कैसे बनाये ?” इसके अलावा इस आर्टिकल के अंदर हम बैकलिंक पर बिल्कुल डिटेल से चर्चा करेंगे तो अगर आपको बैकलिंक के बारे में कुछ भी जानकारी नहीं है तो इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको बैकलिंक की पूरी जानकारी मिल जाएगी।

बैकलिंक जरूरी क्यों है | Backlink Kyo Jaruri Hai

दोस्तो बैकलिंक हमारी वेबसाइट के लिए बहुत जरूरी होते है, क्योंकि बैकलिंक की मदद से हमारी पोस्ट की रैंकिंग काफी ज्यादा बढ़ जाती है, और हमारी साइट पर काफी ज्यादा ट्राफिक आने लगता है जिस कारण से कि धीरे-धीरे हमारी साइट आगे बढ़ने लगती है और हमारे आर्टिकल सर्चिंग में आने लगते हैं, बैकलिंक की मदद से आप अपनी साइट को काफी ग्रो कर सकते हैं।

बैकलिंक से आप क्या समझते हैं | What is Backlink in Hindi | Backlink Kyaa Hai

दोस्तों जब भी आप अपना एक नया ब्लॉग क्रिएट करते हैं तो नए ब्लॉग पर आपको ट्रैफिक बहुत ही कम देखने को मिलता है, और कई बार आपको ट्राफीक बिल्कुल भी नहीं मिलता इसका मेन कारण होता है कि आप आपने ब्लॉग पर बैकलिंक नहीं लगाते, बैकलिंक का मतलब होता है की आप किसी पॉपुलर ब्लॉग पर जाकर अपना लिंक वहां पर लगाएं जिससे कि उस पॉपुलर ब्लॉक पर आपका बैकलिंक होने के कारण वहां से ट्रैफिक आपके ब्लॉग पर आना स्टार्ट हो जाए, और इस से कारण से कि आपकी साइट की रैंकिंग भी अच्छी हो जाती हैं।

बैकलिंक कैसे बनाए जाते है | Backlinks Kaise Banate Hain

तो चलिए दोस्तो अब हम सीखते है की बैकलिंक बनाए किस तरह जाते है बैकलिंक बनाने के तरीको को हम विस्तार में समझते है।

1. कॉमेंट करके बैकलिंक बनाए | Comment Bakclinks

बैकलिंक बनाने का सबसे आसान तरीका है अपनी वेबसाइट से रिलेटेड वेबसाइट पर जाए और वह पर आप उस वेबसाइट के बारे के कुछ एसे कॉमेंट करे जो की वेबसाइट के ऑनर को पसंद आए। कॉमेंट के साथ आप अपनी वेबसाइट का बैकलिंक भी डाल सकते है।

2. प्रोफाइल बैकलिंक बनाए | Profile Creation Sites Backlinks

इंटरनेट पर अनेक ऐसी वेबसाइट है जहा पर आप अपने वेबसाइट की प्रोफाइल बना सकते है इन प्रोफाइल वेबसाइट पर बैकलिंक बहुत अच्छे क्वालिटी के बनते है।

3. पैसे देकर बैकलिंक बनाए | Paid Backlinks | Buy Backlinks

दोस्तो आप अपनी वेबसाइट का बैकलिंक किसी अच्छी वेबसाइट के ऑनर को कुछ पैसे देके अपनी वेबसाइट का बैकलिंक उसकी वेबसाइट पर डाल सकते है। आपको इस वेबसाइट के ऑनर से बात करनी होगी और जितने पैसे आप दे सकते है वह उसे बताना होगा और अगर वह मान जाता है उतने पैसे पे तो आपका बैकलिंक Paid service से उसकी वेबसाइट पर लग जायेगा।

4. सोशल मीडिया पर बैकलिंक बनाए | Social Media Backlinks

सोशल मीडिया की मदद से आप अपनी वेबसाइट का बैकलिंक बना सकते है यह बैकलिंक Nofollow बैकलिंक होगा, इससे आपकी गूगल पर रैंकिंग तो नही मिलेगी लेकिन आपकी वेबसाइट पर अच्छा ट्रैफिक आ जायेगा।

बैकलिंक के प्रकार | Types of Bakclinks

दोस्तो बैकलिंक दो प्रकार के होते है और दोनो के काम अलग अलग होते है। दोनो ही बैकलिंक अलग अलग तरीके से आपकी वेब साइट पे लोगो को पहुंचाते है। दोनो बैकलिंक के नाम है :

1) Dofollow Link
2) Nofollow Link

दोस्तो यह दोनो ही बैकलिंक बहुत जरूरी होते है चलिए दोनो के बारे में विस्तार में जानते है।

Dofollow Backlinks | Dofollow बैकलिंक

दोस्ती वेब साइट से हमारी वेब साइट पर यूजर को Redirect करने के लिए उस वेब साइट का ऑनर पास करेगा ताकि लोग उस लिंक पर क्लिक करके हमारी साइट पर आ सके। इस में जब कोई भी व्यक्ति किसी वेब साइट पर जायेगा वहा आपके वेब साइट के किसी आर्टिकल या होमपेज को रिकमेंड किया होगे और वह से वह व्यक्ति हमारी साइट तक पहुंच सकेगा। यूजर को दूसरी वेब साइट से हमारी वेब साइट पे आने के लिए जो लिंक बनाया होगा वह Dofollow बैकलिंक होता है

Dofollow बैकलिंक हमारी वेब साइट को गूगल पर अच्छी रैंक दिलवाता है। जिस वेब साइट का Dofollow बैकलिंक अच्छा बना होता है गूगल उसे बहुत Recommend करता है और जिस साइट का Dofollow बैकलिंक नही होता गॉगल उसे बहुत कम रिकमेंड करता है।

Dofollow बैकलिंक के फायदे।

1) वेबसाइट की गूगल पर रैंक में वृद्धि होती है।
2) वेबसाइट की Quality बढ़ती है।
3) वेबसाइट पर असली ट्रैफिक बढ़ता है।

Nofollow Backlink | नो फोलो बैकलिंक

Nofollow बैकलिंक आपकी वेबसाइट की इमेज बनाने के लिए काफी जरूरी है अगर आप अपनी वेबसाइट अच्छी बनाना चाहते है तो इसका इस्तेमाल किया जा सकता है अगर आपकी वेब साइट का लिंक किसी अन्य Spam वेएबसाइट से जुड़ा है तो आप इस Nofollow Atribute का इस्तेमाल कर सकते है जिससे की आपकी वेबसाइट पर किसी भी तरह का कोई गलत इंपैक्ट नहीं पड़ेगा।

Nofollow बैंकलिंक वह सभी लिंक है जो हम सोशल मीडिया यानी Facebook, Twitter, Instagram, Whatsapp और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर बनाते है। इन सभी लिंक को Nofollow बैकलिंक की कैटेगरी में डाला जाता है। इससे हमारी वेबसाइट पर ट्रैफिक तो आता है लेकिन गूगल इसे किसी भी तरह से प्राथमिकता नहीं देता।

Nofollow बैकलिंक के फायदे | Benefits if Nofollow Backlinks

अगर आप अपनी वेबसाइट पर इस बैक लिंक का इस्तेमाल करते हैं तो आपको इससे भी कुछ फायदे हो सकते हैं जैसे कि-
1) आपकी वेबसाइट गूगल पर Spam नहीं होगी।
2) आप किसी भी वेबसाइट पर अपनी वेब साइट Promote कर सकते है।
3) आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक अच्छा खासा आ जायेगा।

महत्वपूर्ण चीजे बैकलिंक से संबंधित।

दोस्तो यह तो हम सब जानते होंगे की सभी बैकलिंक एक जैसे नहीं बनते। अगर आपको अपनी वेब साइट को एक अच्छी रैंक पर लाना है तो आपको अपना बैकलिंक बहुत अच्छे से बनाना होगा। एक अच्छी Quality वाला बैकलिंक, 1000 बेकार Quality के बैकलिंक से अच्छा है।

तो चलिए अब हम देखते है महत्वपूर्ण बैक लिंक।

1. एक अच्छी वेब साइट पे बैक लिंक | High Quality Backlinks Kaise Banaye

दोस्तो हम सब जानते है की कोई भी व्यक्ति अगर किसी अच्छी वेब साइट पे है तो वह उसके बैकलिंक पे भी विश्वास करेगा और वह उस बैकलिंक से वेब साइट पे आने में कोई संकोच नहीं करेगा, यही अगर किसी कम रैंक वाली वेब साइट पे हमारा बैकलिंक हो वहा से कोई भी व्यक्ति नहीं आयेगा। तो यह बहुत महत्वपूर्ण है की हमारा बैकलिंक एक अच्छी वेब साइट पर हो।

2. Anchor लिंक | Get Anchor Backlinks

दोस्तो Anchor link text उसे कहा जाता है जो हमारे लिंक पे हमने लिखा होता है। जैसे की जो चीज हम अपनी वेब साइट पे उपलब्ध करवाते है वह चीज हम अपने लिंक पे लिखे, जिससे की हमारे लिंक पे आने वाले व्यक्तिं को पता हो की वह किस वेब साइट पर जा रहे है और वह उन्हें जिस तरह की जानकारी मिलेगी। और जिस व्यक्ति वो वह जानकारी चाहिए तो उसके लिए हमारा लिंक ढूंढना भी आसान होगा।

3. आपकी साइट से Topically संबंधित | SEO Link building in Related Websites

दोस्तो यह बहुत ही महत्वपूर्ण चीज है की जिस भी वेब साइट पर आप अपनी वेब साइट का बैकलिंक डाल रहे है वह आपकी साइट के Topic से संबंधित होनी चाहिए ताकि जो भी व्यक्ति उस साइट पे हो वह आपके साइट पे उस बैकलिंक के द्वारा जरूर पहुंचे। इस चीज से गूगल भी आपकी साइट की रैंक बढ़ता है क्युकी लोग जब सर्च करते है किसी टॉपिक को तो वह प्रसिद्ध साइट पे पहुंचते है और वह से आपकी साइट पे।

FAQ’s

दोस्तो मेने इस आर्टिकल में आपको बैकलिंक से संबंधित सारी जानकारी देने की कोशिश की है अगर आपको फिर भी कोई डाउट रह गए है बैकलिंक को लेके तो आपके यह डाउट इन कुछ चुनिंदा स्वालो के उत्तर से मिल जायेंगे।

Q. बैकलिंक वेबसाइट में क्या मदद करता है?
बैकलिंक वेबसाइट को गूगल पर रैंकिंग दिलाने में मदद करता है और वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ता है।

Q. बैकलिंक कितने प्रकार के होते है?
बैकलिंक दो प्रकार के होते है 1) Dofollow बैकलिंक 2) Nofollow बैकलिंक।

Q.क्या Nofollow बैकलिंक से ब्लॉग को फायदा होगा।
जी हा Nofollow बैकलिंक आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक लेन में मदद करेगा।

निष्कर्ष | Conclusion

दोस्तो आज के इस आर्टिकल में हमने आपको बैकलिंक से रिलेटेड सभी जानकारी देने की कोशिश की है, आशा करता हूं, की आप सभी लोगो को समझ आ गया होगा की बैकलिंक क्या होता है? और कैसे आप इसे इस्तेमाल करके अपनी वेबसाइट को रैंक करवा सकते हैं, और किस प्रकार लोगो को अपनी वेबसाइट तक ला सकते है, तो इन सभी तरीको का इस्तेमाल करे और अपनी वेबसाइट को आगे बढ़ा सकते हैं।

Read Also :

सम्बंधित पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *