MSME क्या है | MSME Full Form | MSME Meaning

नमस्कार दोस्तों ! ऑनलाइन जॉब अलर्ट में हम आपको व्यापार से सम्बंधित एक महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं | अगर आप अपना कोई छोटा या लघु उद्योग खोलना चाहते हैं तो आज की पोस्ट आपके बहुत काम आ सकती है | आज की पोस्ट में आपको बतायंगे कि MSME क्या है | MSME Full Form | MSME मिलने वाले लाभ | MSME कितने प्रकार की होती है आदि |

आपने इसके बारे में जरुर सुना होगा कि सरकार ने MSME के लिया यह घोषणा कि , यह छूट दी । MSME के योजना बनाई आदि । यह सब इसीलिए किया जाता है क्योंकि  MSME देश की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं। यह भारत की जीडीपी (GDP)  में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं | हम टेलीविजन, इन्टरनेट, रेडियों और अख़बारों में MSME की कई ख़बरें पढने और देखने को मिलती  हैं। लेकिन बहुत सारे लोग भी एमएसएमई-MSME के बारे में नहीं जानते |  तो चलिए इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताते हैं की आखिर MSME क्या होता है |

MSME Full Form

MSME की फुल फॉर्म क्या है?

दोस्तों MSME चार अंग्रेजी के शब्दों की एक शोर्ट फॉर्म है | जिसमे M का मतलब MICRO, S का मतलब SMALL, दूसरे M का मतलब MEDIUM और E का मतलब ENTERPRISE होता है | अब तीनो चारों शब्दों को मिलकर देखे तो MSME Full Form होती है “Micro Small and Medium Enterprise” | और इसे हम हिंदी में  “सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योग” कहते हैं |

MSME क्या है?

MSME उद्योग स्थानीय स्तर पर क्या जाने वाला उद्योग होता है, इस तरह का उद्योग कम लोगों के माध्यम से कम जगह पर भी आसानी से संचालित किया जा सकता है| MSME मुख्यतः दो प्रकार का होता है|

1. मैनुफैक्चरिंग उद्योग (विनिर्माण उद्योग)

मैनुफैक्चरिंग उद्योग में नई चीजों को बनाने निर्माण करने का कार्य किया जाता है|

2. सर्विस सेंटर (सेवा उद्योग)

सर्विस सेंटर में मुख्य रूप से सेवा प्रदान करने का कार्य किया जाता है इस सेंटर में लोगों को और विभिन्न संस्थाओं को सर्विस देने का काम होता है|

MSME कारोबारियों को केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा कई तरह से प्रोत्साहन दिया जा रहे है | सुक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योग क्षेत्र का देश के विकास में बहुत महत्वपूर्ण योगदान है | सरकार द्वारा चलाई जा रही सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए उद्योग का MSME रजिस्ट्रेशन होना अनिवार्य है|

सूक्ष्म उद्योग –

जिन उद्योगों में 25 लाख रुपए तक की कीमत वाली मशीनें लगी होती है उन्हें MSME के अंतर्गत सूक्ष्म उद्योग यानी माइक्रो इंडस्ट्री के नाम से जाना जाता है|

लघु उद्योग –

जिन उद्योगों में 25 लाख रुपए से लेकर 5 करोड़ रुपए ट्रक की कीमत वाली मशीनें लगी होती है |  उन्हें MSME के अंतर्गत लघु उद्योग यानी स्माल इंडस्ट्री के नाम से जाना जाता है|

मध्यम उद्योग –

जिन उद्योगों में 5 करोड़ रुपए से लेकर 50 करोड़ रुपए ट्रक की कीमत वाली मशीनें लगी होती है उन्हें MSME के अंतर्गत मध्यम उद्योग यानी मीडियम साइज इंडस्ट्री के नाम से जाना जाता है

MSME मिलने वाले लाभ

• बैंक से बांड फ्री लोन की सुविधा

• लाइसेंस रजिस्ट्रेशन पर छूट की सुविधा

• ओवरड्राफ्ट पर ब्याज दर में राहत मिलना

• टेक्नोलॉजी और गुणवत्ता में बढ़ोतरी की

• प्रोडक्ट की मार्केटिंग में सरकारी सुविधा मिलना ।

निष्कर्ष :

दोस्तों आज की पोस्ट में हमने आपको लघु उद्योगों करने के सम्बन्ध में उपयोगी जानकारी दी है | आज की पोस्ट में हमने जाना कि MSME क्या है | MSME Full Form in Hindi | MSME मिलने वाले लाभ | MSME कितने प्रकार की होती है आदि |

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होतो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करें. अगर आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई सवाल है तो हमें जरुर लिखें,

हम अपने ब्लॉग ऑनलाइन जॉब अलर्ट के फ्री फॉर्मेट पोर्टल में हमेशा कुछ न कुछ उपयोगी जानकारी पोस्ट करते रहते हैं. इसीलिए आप हमारे ब्लॉग को जरुर सब्सक्राइब करें और हमारी मोबाइल एप को डाउनलोड करें.

जय हिन्द जय भारत

सम्बंधित पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *