EMI क्या है | EMI Full From

नमस्कार दोस्तों ! ऑनलाइन जॉब अलर्ट के फुल फॉर्म और हिंदी मीनिंग पोर्टल में आपका स्वागत है | आज की पोस्ट में हम आपको बैंक और लोन से सम्बंधित एक शब्द EMI के बारे में बताने जा रहे हैं | जो लोग बैंक से लोन ले चुके हैं उनके तो EMI के बारे में जरुर पता होगा | लेकिन आज भी करोड़ों लोग हैं जो इसके बारे में कुह नहीं जानते और ना ही इसका लाभ उठा पाते हैं | इसीलिए हमने सोचा की आज आपको EMI की जानकारी दी जाए | आज की पोस्ट में हम आपको बतायंगे कि EMI Kya Hai | EMI Full From (EMI ka full form )|  EMI की गणना कैसे करें EMI कैसे काम करती है EMI के फायदे, आदि |

EMI Full From | EMI Full Meaning

सबसे पहले आपको बता दें की EMI का मतलब या फुल फॉर्म होती है “Equated Monthly Instalment” (इक्वेटेड मंथली इंस्टालमेंट)  | और हिन्दी मे EMI का मतलब होता है ““सामान मासिक किस्त” |

EMI क्या है | What is EMI in Hindi

यह एक प्रकार की मासिक किस्त होती है, और इसका प्रतिमाह भुगतान करना होता है | जब कोई व्यक्ति किसी बैंक से EMI पर किसी भी तरह का कोई Product खरीदता है, तो उसे EMI के तहत बैंक को एक राशि देनी होती है | जिसमें मूलधन और ब्याज दोनों ही होते हैं | और इस राशि को दी गई समय सीमा में ही देना होता है | किसी लोन को चुकाने या सामान खरीदने पर जो समान मासिक किस्तों का भुगतान किया जाता है उसे हम EMI कहते हैं |

 EMI की गणना कैसे करें | EMI Calculation Formula

EMI की गणना तीन तरह से होती है।

  1. Interest Rate :- साहूकार द्वारा लिए गए ब्याज की दर जैसे : – बैंक।
  2. Loan Amount :- उधार ली गई राशि|
  3. Tenure Of The Loan :- ऋण दाता द्वारा ब्याज सहित संपूर्ण ऋण चुकाने का समय |

अगर आप अपनी EMI की गणना करना चाहते हैं तो बहुत ही आसानी से कर सकते हैं | क्योंकि आज बहुत सारी वेबसाइट और मोबाइल एप पर emi calculator उपलब्ध हैं | यहाँ आपको सभी तरह की EMI केलकुलेटर  (loan emi calculato) मिल जाते हैं  : जैसे :

  • Home loan EMI calculator
  • Personal loan EMI calculator
  • Car loan EMI calculator

आजकल तो बैंक भी अपनी वेबसाइट पर emi calculator की सुविधा देते हैं | उदाहरण के लिए आप स्टेट बैंक की वेबसाइट पर  देखने के लिए गूगल पर “emi calculator sbi” सर्च करेंगे तो आपको SBI बैंक द्वारा बनाये गए EMI CALCULATER का पेज दिखाई देगा | अगर आपने होम लोन के बारे में सर्च किया है तो आपको होम लोन की emi वाला पेज दिखायगा | यह पेज देखने के लिए यहाँ क्लिक करें |

 EMI कैसे काम करती है : –

हर महीने EMI की किस्त में ब्याज और मूलधन को जोड़ा जाता है, और यह प्रक्रिया तब तक चलती रहती है जब तक आप लोन का पूरा पैसा नहीं चुका देते । EMI की किस्त हर महीने निश्चित रहती है कम या ज्यादा नहीं होती| आपका मूलधन तथा ब्याज जितना ज्यादा होगा EMI की किस्त उतनी ही ज्यादा होगी|

 EMI के फायदे : –

  1. EMI से आप कोई भी जरूरत का सामान आसानी से खरीद सकते हैं|
  2. समय पर किस्त भरने से आपका Credit Score बढ़ जाता है|
  3. कई बार बिना ब्याज के भी EMI के Offer आते हैं इसमें आपको सामान लेने पर EMI के साथ ब्याज नहीं देना पड़ता|
  4. अगर आपके पास सामान खरीदने के लिए पैसे नहीं है तो भी आप EMI से वो सामान खरीद सकते हैं।
  5. इसमें धोखाधड़ी का खतरा कम होता हैं।

निष्कर्ष :

दोस्तों आज की पोस्ट में हमने आपको बैंक से लोन लेते वक्त उपयोग होने वाले एक महत्वपूर्ण शब्द EMI की शानदार जानकारी दी है | आज की पोस्ट में हमने आपको बताया है कि EMI Kya Hai | EMI Full From (EMI ka full form )|  EMI की गणना कैसे करें EMI कैसे काम करती है EMI के फायदे, आदि |

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होतो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करें. अगर आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई सवाल है तो हमें जरुर लिखें,

और सभी फुल फॉर्म एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें |

हम अपने ब्लॉग ऑनलाइन जॉब अलर्ट के फ्री फॉर्मेट पोर्टल में हमेशा कुछ न कुछ उपयोगी जानकारी पोस्ट करते रहते हैं. इसीलिए आप हमारे ब्लॉग को जरुर सब्सक्राइब करें और हमारी मोबाइल एप को डाउनलोड करें.

जय हिन्द जय भारत

सम्बंधित पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *