IVF क्या है | IVF Full Form | IVF Treatment | IVF cost |

नमस्कार दोस्तों ! आज की पोस्ट में हम आपको मेडिकल फिल्ड की एक नई खोज के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने लाखों लोगों में उम्मीद की किरण जगा दी है | आज की पोस्ट में हम आपको IVF तकनीक के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी सहायता से अब वह लोग भी माता पिता बन सकते हैं जो पहले असमर्थ थे | आज हम आपको बतायंगे कि IVF क्या है | IVF Full Form | IVF में क्या होता हैं | IVF कराने कि जरूरत क्यू पड़ती हैं | तथा IVF में कितना खर्चा आता है |

IVF Full Formआजकल TV में और अखबारों के विज्ञापनों में आपको रोज सुनने को मिल रहा होगा कि IVF के द्वारा माँ बनिए जो माता पिता बनने में असमर्थ हैं । लेकिन अब भी करोड़ों लोग इस तकनीक के बारे में नहीं जानते | तो आइये आपको बताते हैं यह क्या है और इसने कैसे मेडिकल की फिल्ड में तेहलका मचा रखा है |

IVF Full Form | IVF Means

दोस्तों IVF अंग्रेजी के तीन शब्दों से बना हुआ एक शोर्ट फॉर्म है | जिसके तीनों अक्षरों के मतलब अलह अलग इस प्रकार है –

  • I- In
  • V- Vitro
  • F- Fertilization

इस प्रकार IVF की फुल फॉर्म होती है “In vitro fertilization” | और IVF का हिंदी में मतलब होता है “प्रजनन उपचार” या इसे फर्टिलिटी ट्रीटमेंट भी कह सकते हैं ।

IVF क्या होता हैं? 

यह एक ट्टरीटमेंट है जिसका मतलब होता हैं जो दंपत्ति बच्चे पैदा करने में असमर्थ हैं और वो बच्चे करने कि सोच रहे हैं वह इस IVF कि मदद से संतान पा सकते हैं । 

IVF में क्या होता हैं?

IVF में इच्छुक दंपति की जाँच होती हैं और फिर उसके बाद इसकी प्रकिया या ट्रीटमेंट शुरू होता हैं । जिसमें –

• पुरुष के सीमेन को साफ करके उनमे अच्छे और बेकार शुक्राणुओं को अलग अलग किया जाता हैं ।
• महिलाओं के शरीर में इंजेक्शन के माध्यम से अंडे को बाहर निकाला जाता हैं और फिर उसे फ्रीज में रख दिया जाता हैं ।
• इसके बाद पेट्री डिश में अंडे के ऊपर शुक्राणु को रख दिया जाता हैं फिर इसके बाद उनको प्राकृतिक ढंग से प्रजनन करने लिए छोड़ दिया जाता हैं ।
• इस प्रकिया के 3 दिन के बाद प्रजनन हो जाता हैं तो भ्रूण बन जाता हैं ।
• इसके बाद एक कथेटेर (लचकदार नली)कि मदद से इस भ्रूण को महिला के गर्भाशय में डाला जाता हैं ।
• गर्भाशय में भ्रूण से बच्चे बनने कि प्रक्रिया समान्य प्राकृतिक तरीके से ही होता हैं ।
• बस इसमें भ्रूण को लैब में तैयार किया जाता हैं ।
• इसमें कोई साइड इफ़्फ़ेक्ट नही होता हैं

IVF को लेकर गलत धारणाएँ?

लोगो को मानना हैं कि IVf कराने के बाद ,बच्चे के अंदर कमी हो सकती हैं।
पर ऐसा कुछ नही होता हैं य़े बिल्कुल साफ और सुरक्षित के साथ किया जाता हैं ।

IVF कराने कि जरूरत क्यू पड़ती हैं ?

इसकी जरूरत उन दंपित्त को पड़ती हैं जिनको संतान नही होती हैं | और उनमें संतान ना होने के निम्न कारण हो सकते हैं –

• जिन पुरुष में शुक्राणु कि कमी ।
• शुक्राणु कि गति ना होना ।
• सीमेन में शुक्राणु का ना होना
• ख़राब वाले शुक्राणु का होना ।
• महिलाओं में ओव्यूलेशन का ना होना ।
• महिलाओं में ख़राब अंडे का होना ।

IVF में कितना खर्चा आता है ?

हमारे देश में आईवीएफ ट्रीटमेंट पर अलग अलग खर्चा आता है। जो इस प्रकार है :

  • दिल्‍ली : 90 हजार से 1,25,000 रुपए तक का खर्च।
  • मुबई : 2 से 3 लाख रुपए तक का खर्च।
  • चेन्‍नई : 1,45,000 से 1,60,000 रुपए तक का खर्च।
  • बैंगलोर : 1, 60000 से 1,75000 रुपए तक का खर्च।
  • नागपुर : 75,000 से 90,000 रुपए तक का खर्च।
  • पुणे : 65,000 से 85,000 रुपए तक का खर्च।
  • कोलकाता : 65,000 से 80,000 रुपए तक का खर्च।

IVF ट्रीटमेंट कराने पर कई कारकों को देखा जाता है | और इससे भी इसकी कीमत पर प्रभाव पढता है | इनमे से कुछ कारण इस प्रकार है –

उम्र कितनी है और कितनी बार आपको ट्रीटमेंट की जरूरत है। अगर ट्रीटमेंट के दौरान डोनर की जरूरत पड़ी तो डोनर के एग या स्‍पर्म की कीमत कितनी है | डोनर के भ्रूण की कीमत कितनी है | इंट्रासाइटोप्‍लाज्‍मिक स्‍पर्म इंजेक्‍शन कितने का है | भ्रूण को फ्रीज करने में कितना खर्कीचा होगा आदि |

निष्कर्ष

दोस्तों आज की पोस्ट में हमने आपको एक ऐसे शब्द की जानकारी दी है जोकि मेडिकल फिल्ड में किसी वरदान से कम नहीं है | है | आज की पोस्ट में हमने आपको बताया है कि IVF क्या है | IVF Full Form | IVF में क्या होता हैं | IVF कराने कि जरूरत क्यू पड़ती हैं | तथा IVF में कितना खर्चा आता है | दोस्तों जो पति पत्नी बच्चे पैदा करने में असमर्थ हैं उनके लिए IVF तकनीक बहुत काम आ सकती है | इसकी सहायता से वह बच्चे का सुख ले सकते हैं |

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होतो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करें. अगर आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई सवाल है तो हमें जरुर लिखें,

हम अपने ब्लॉग ऑनलाइन जॉब अलर्ट के फ्री फॉर्मेट पोर्टल में हमेशा कुछ न कुछ उपयोगी जानकारी पोस्ट करते रहते हैं. इसीलिए आप हमारे ब्लॉग को जरुर सब्सक्राइब करें और हमारी मोबाइल एप को डाउनलोड करें.

जय हिन्द जय भारत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *