OCD क्या है | OCD Full Form | OCD Meaning | OCD Symptoms |

नमस्कार दोस्तों ! आज की पोस्ट में हम आपको जिस शब्एद की फुल फॉर्कम की जानकारी दे रहे हैं वह एक  मानसिक बिमारी से जुड़ा है | जैसे आपने कभी किसी की आदतों पर गौर किया है , जैसे बार बार हाथ धोना, ताले को बार बार चेक करना की वो ठीक से लगा हुआ है या नही, ऐसी बहुत सी चीजें आपने देखी होगी किसी आदमी में जो इस तरीके के गतिविधियों को करता रहता है । आपको इस आर्टिकल में हम इसी से जुड़े बिमारी के बारे मे बताने जारे है । आज हम आपको बतायंगे कि OCD क्या है | OCD Full Form | OCD के लक्षण क्या-क्या होते हैं | OCD का कारण, आदि  |

OCD Full Form

OCD Full Form | OCD KA full Form

सबसे पहले आपको बता दें कि OCD अंग्रेजी के तीन शब्दों से मिलकर बना एक शोर्ट फॉर्म है | जिसमें तीनो अक्षरों के मतलब इस प्रकार है –

  • O- OBSESSIVE
  • C- COMPULSIVE
  • D- DISORDER

इस प्रकार OCD का फुल फॉर्म होता है “Obsessive–compulsive disorder” | उअर हिंदी में OCD का मतलब होता है “मनोग्रसित बाध्यता विकार” है ।

OCD क्या है ? OCD Meaning in Hindi

OCD एक ऐसा विकार है जिसमे व्यक्ति को चिंता रहती है। अब आप सोचोगे की किस बात की चिंता रहती है ।

इसको हम एक उदाहरण से समझते है। जैसे- आप अपने घर का दरवाजे मे ताला लगा कर आये हो, और आपको पता है की आपने ताला अच्छे से लगा रखा है ओर फिर चले जाते हो अपने काम में । मगर यही बात OCD मरीजों को साथ नही होता ।
अगर वो अपने हाथ से भी दरवाजे मे ताला लगा कर आये है तो वो उस ताले को बार बार चेक करेगें ।

उन्हें इस बात का डर लगा रहता है की कही ताला ठीक से लगा हुआ ना हो और घर में कोई घुस ना जाये और चोरी ना कर ले ।
ये विचार उनके दिमाग मे बार बार आते रहते है।इसको इन्सेक्योरिटी केहते हैं ।

OCD के लक्षण क्या-क्या होते हैं?

OCD के मरीजों को हर किसी चीज़ में इन्सेक्योरिटी फील होता हैं ।तो वो एक चीज़ को बार बार करते हैं जैसे-

• बार-बार हाथ या पैर धोना ।
• बार बार ताले, नलका, गैस सिलेण्डर, को चेक करना ।
• या किसी चीज़, जगह को छूकर अपने हाथ साफ करना ।
• स्वच्छता को लेकर बहुत ज्यादा संवेदनशील होना ।
• दिमाग में बार-बार बुरे खयाल आना ।
• बार बार खिड़कियों और दरवाजे को बंद करना, की कही कोई आ ना जाऐं ।

OCD का कारण?

OCD के कारण का अभी तक पता नही चल पाया हैं पर कुछ कारण माने गए है जो की इस प्रकार है । जैसे-

• जीन्स- OCD को कभी कभी अनुवांशिक भी मानते है ओर ये पीढ़ी दर पीढ़ी भी हो सकता है ।
• मानसिक तनाव – आजकल के वक़्त में जहाँ जिंदगी भाग दौड के साथ-साथ तनावपूर्ण हो गयी है उसका प्राभव भी यह हो सकता है ।
• मस्तिक मे बदलाव – कई शोधकर्ताओं का मानना है की मस्तिक में सेरोटोनीन का असंतुलन हो जाने के वजह भी हो सकती है ।
• सोचने के नजरिया- सब व्यक्ति का सोचने का नजरिया अलग अलग होता है।कोई किसी चीज को लेकर अपने विचार या धारणा बना लेता है उस चीज को नेगेटिव या फिर पॉजिटिव ले लेते हैं ।
• य़े बीमारी पुरषों से ज्यादा महिलाओं में देखा गया हैं ।

OCD Treatment

ओसीडी का इलाज (OCD Treatment) मनोचिकित्सक (सायकायट्रिस्ट ) और मनोविज्ञानी (क्लीनिकल सायकॉलजिस्ट ) करते है। इसके इलाज़ की कोई समय सीमा नहीं होती है | क्योंकि इसके इलाज़ में मरीज के बर्ताव या आदतों में पॉजिटिव बदलाव लाना होता है | जिसमें उसकी अपनी कोशिश और उसके परिवार के सदस्यों का सहयोग सबसे अहम होता है |

निष्कर्ष

दोस्तों आज की पोस्ट में हमने आपको एक गंभीर मानसिक बीमारी से सम्बंधित  महत्वपूर्ण जानकारी शेयर की है | आज की पोस्ट में हमने आपको बताया है कि OCD क्या है | OCD Full Form | OCD के लक्षण क्या-क्या होते हैं | OCD का कारण, आदि  | 

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होतो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करें. अगर आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई सवाल है तो हमें जरुर लिखें,

हम अपने ब्लॉग ऑनलाइन जॉब अलर्ट के फ्री फॉर्मेट पोर्टल में हमेशा कुछ न कुछ उपयोगी जानकारी पोस्ट करते रहते हैं. इसीलिए आप हमारे ब्लॉग को जरुर सब्सक्राइब करें और हमारी मोबाइल एप को डाउनलोड करें. जय हिन्द जय भारत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *