WBC क्या है | WBC Full Form | WBC count

नमस्कार दोस्तों ! आज की पोस्ट में भी हम आपको स्वास्थ्य से सम्बंधित एक महत्वपूर्ण शब्द की जानकारी दे रहे हैं जो इस फिल्ड में बहुत बार उपयोग किया जाता है | आज की पोस्ट में हम आपको बतायंगे कि WBC क्या है | WBC Full Form | WBC Meaning | WBC Count in Hindi आदि |

दोस्तो खून के के बारे में हमने आपको RBC क्या है वाले पोस्ट में बताया था कि खून केवल एक तरल यानी कि लिकिउड , लाल रंग ही नही होता, बल्कि इसमें  बहुत से पदार्थ भी होते हैं  । जैसे REd blood cells | ऐसे ही खून में एक और पदार्थ होता है WBC | जिसके विषय में हम आगे जानकारी दे रहे हैं |

WBC Full Form

WBC Full Form | WBC Meaning

हमारे शरीर को जब बीमारी लग जाती हैं तो य़े WBC ही हैं जो वाइरस को मारकर, उनसे लड़कर हमें बीमारियों से बचाता हैं ।
तो आइए जानते हैं की आखिर य़े WBC होता क्या हैं और क्यू हमारे शरीर के लिए जरूरी हैं ।

दोस्तों WBC अअंग्रेजी के तीन शब्दों से मिलकर बना एक शोर्ट फॉर्म है | जिमें सभी वर्ड के मतलब अलग होते हैं जैसे –

  • W – White 
  • B – Blood
  • C – Cells

अब सभी को मिलकर देखें तो WBC की फुल फॉर्म होगी “White blood cells” | और हिंदी में WBC का मतलब होता है “सफेद रक्त कोशिका”

WBC क्या होता हैं?

WBC हमारे रक्त पे पाए जाने वाले ऐसे सेल हैं जो हमारे शरीर को किसी बीमारी से लड़ने में हमारी सहायता करते हैं और हमारे शरीर में रोग के प्रतिरोधक क्षमता को पैदा करते हैं । ताकि हमारा शरीर कोई भी बीमारी में उस जीवाणु या वाइरस से लड़ सके और शरीर को रोग मुक्त कर सके ।

WBC का निर्माण कहाँ होता हैं?

WBC का निर्माण अस्थि मज्जा में होता हैं और कभी कभी लिम्फ नोड और प्लीहा में भी होता हैं । इसमे केन्द्रक पाया जाता हैं ।

WBC का आकार?

WBC का आकार सूक्ष्मदर्शी पर देखने पर अमीबा की तरह दिखायी देता हैं ।

WBC के प्रकार?

WBC 5 प्रकार के होते हैं । जैसे –

1. Neutrophils
2. Eosinophils
3. Basophils
4. Monocytes
5. Lymphocytes

WBC का जीवन काल या लाइफ ऐस्पन?

इसकी जीवन काल 1 से 4 दिन तक ही होता हैं ।

WBC को हम हमारे शरीर का सिपाही भी केहते हैं |

WBC की संख्या कितनी होनी चाहिए?

WBC भी RBC की तरह खत्म होकर नए बनते रहते हैं | इनकी संख्या किसी भी स्वस्थ व्यक्ति में प्रतिघन मिलीमीटर रक्त में 5000 से 11000 तक होती हैं ।

WBC की कमी होने पर क्या होता हैं?

इसकी कमी होने पर हमारे शरीर में प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती हैं जिससे हमारा शरीर किसी भी बीमारी से लड़ नही पाता ।
और इस तरीके से हमें ल्यूकोपिनया नामक बीमारी हो जाती हैं । और ऐड्स जैसी भयंकर बीमारी लगने का खतरा बना रहता हैं ।

WBC की मात्रा बढ़ने पर इसको ल्यूकोसाइटोंसीस कहते हैं ।

WBC कम हो तो क्या खाना चाहिए?

अगर आपका WBC कम हैं तो आपको आपने खाने में जिंक को शमिल करना चाहिए क्यूंकि जिंक के कमी के करण ही WBC की मात्रा में कमी आती हैं । जैसे अंडे भी आप ले सकते हो उसमे जिंक होता हैं । दही का सेवन भी आप कर सकते हैं |
और साथ में हरे पत्तेदार सब्जी भी खां सकते हैं ।

निष्कर्ष :

दोस्तों आज की पोस्ट में हमने आपको एक ऐसे शब्द की जानकारी दी है जो मेडिकल के फिल्ड में ज्यादा उपयोग किया जाता है | | आज की पोस्ट में हमने जाना कि WBC क्या है | WBC Full Form | WBC Meaning | WBC Count in Hindi आदि |

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होतो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करें. अगर आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई सवाल है तो हमें जरुर लिखें,

और सभी फुल फॉर्म एक साथ देखने के लिए यहाँ क्लिक करें |

हम अपने ब्लॉग ऑनलाइन जॉब अलर्ट के फ्री फॉर्मेट पोर्टल में हमेशा कुछ न कुछ उपयोगी जानकारी पोस्ट करते रहते हैं. इसीलिए आप हमारे ब्लॉग को जरुर सब्सक्राइब करें और हमारी मोबाइल एप को डाउनलोड करें.

जय हिन्द जय भारत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *