आईएएस फुल फॉर्म? IAS Full Form in Hindi

ias full form

नमस्कार दोस्तों, ऑनलाइन जॉब अलर्ट में आपका फिर से स्वागत है. आज हम आपके लिए एक ऐसी नौकरी कि जानकारी लेकर आये हैं जिसके सपने करोड़ों युवा देखते है. आज हम आपको देश कि सबसे सम्मानित जॉब आईएस के बारे में बताने जा रहे हैं. आज कि पोस्ट में आप समझ पायंगे कि IAS कौन होता है, आईएएस फुल फॉर्म – IAS Full Form क्या है .

अगर आप आईएस की जॉब करना चाहते हैं या किसी ओर सरकारी जॉब कि तयारी कर रहे हैं तो आपको आईएस के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए. क्योंकि प्रतियोगी परीक्षाओं में आईएएस की फुल फॉर्म के बारे में भी पुछा जाता है. आज कि पोस्ट में आप यह भी जान पायंगे कि आखिर IAS कि जॉब के पीछे करोड़ों युवा क्यों इतनी कड़ी मेहनत करते है.

यह भी पढ़ें –

आईएस क्या है ? IAS Full Form in Hindi – IAS Meaning in Hindi

दोस्तों सबसे पहले आपको बता दें कि आईएस की जॉब को हमारे देश कि सबसे शक्तिशाली और प्रतिष्ठावान जॉब के रूप में देखि जाती है. आईएएस का फुल फॉर्म होता है “Indian Administration Services” . और IAS का हिंदी में अर्थ होता है “भारतीय प्रशासनिक सेवा”. हिन्दुस्तान में सरकारी प्रशासन की जिम्मेदारी आईएस अधिकारी ही संभालते है. आपने अपने जिले में ज़िला अधिकारी के बारे में जरुर सुना होगा, यह ज़िला अधिकारी यह आईएस ही होते हैं. एक आईएस अधिकारी के पास बहुत सारे कार्यों को करने कि शक्ति होती है.

आप आईएस अधिकारी के पद की पॉवर का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि आपके ज़िले के पुलिस अधीक्षक भी इनके अंडर में कार्य करते है, इसीलिए आईएस बनने के लिए आपको इसकी एक कठिन परीक्षा को पास करना होता है. इस परीक्षा को वोही व्यक्ति पास कर सकते हैं जो प्रतिभावान हो और जो आईटीआई बड़ी जिम्मेदारी को संभल सके.

इतने प्रतिष्ठावान पद के लिए लाखों लोग इसकी तैयारी करते हैं. और लाखों लोग हर साल सिविल सेवा परीक्षा (IAS Exam) में सम्मिलित होते हैं और केवल 1 हज़ार अधिकारीयों को चुना जाता है. लेकिन इस परीक्षा में बैठने के लिए कोई विशेष विषय से स्नातक करने कि आवश्यकता नहीं होती है. अगर आपने आर्ट से भी स्नातक (Graduate) किया है या एक डॉक्टर या इंजीनियर या एक वैज्ञानिक कि उपाधि प्राप्त कि है तो भी आप इस परीक्षा में भाग ले सकते हैं. लेकिन इसको पास करना उतना ही कठिन है क्योंकि यहाँ बैठने वाले बहुत ही प्रतिभाशाली होते हैं. आप समझ सकते हैं कि जब डॉक्टर, इंजिनियर या कोई वैज्ञानिक आईएस परीक्षाओं कि तैयारी करते हैं तो एक साधारण पढ़ा लिखा व्यक्ति इनका मुकाबला कैसे कर सकता है. इसी कारण हमारे देश में IAS कि सिविल सेवा परीक्षा को सबसे कठिन माना जाता है.

IAS क्या होता है?

जैसा की हमने आपको बताया कि IAS हमारे देश की सबसे बड़ी परीक्षा है. और जो देश और समाज के लिए कुछ करना चाहते हैं वही आईएस परीक्षा पास कर पाते हैं. क्योंकि IAS का पद समाज की सेवा करने के लिए सर्वश्रेष्ठ अखिल भारतीय सेवा का पद है .

हमारे देश में संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) अन्य भारतीय सेवाओं की परीक्षा की तरह आईएस की परीक्षा भी हर साल आयोजित करवाता है. आईएस एक केन्द्रीय प्रशासनिक सेवा (civil service examination) है. जिसे CSE भी कहा जाता है.

IAS का क्या कार्य होता है ?

आईएएस केवल एक बहुत बड़ा पद ही नहीं है, बल्कि एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी भी है. IAS अधिकारी ही समाज के हित के लिए बड़े बड़े फैसले लेते हैं. विकास के लिए सही दिशा प्रदान करते है. इन्हें आप ज़िलाधकारी के रूप में पहचानते हैं. यह जिले में शक्तिशाली नेता के रूप में काम करते है और प्रशासनिक और सरकारी कर्मचारियों को को समाज हित में अच्छा काम करने के लिए प्रेरित करते है.

हमारे देश में आईएस अधिकारी ही प्रशासन की बागडोर सँभालते हैं. राज्य सरकार हो या केंद्र की सरकार, गाँव होआ या शहर, एक आईएएस अधिकारी ही हर विभाग के शीर्ष पद पर तैनात होते हैं.

आईएस की परीक्षा हर साल करवाई जाती है. संघ लोक सेवा आयोग हर वर्ष फरवरी के महीने में सिविल सेवा परीक्षा (IAS) के लिए नोटिस जारी करता है, इस अधिसूचना में IAS के साथ अन्य सभी 24 केंद्रीय सिविल सेवा के विज्ञापन भी शामिल होते हैं.

अखिल भारतीय सेवायें? All India Services?

भारत में मुख्य रूप से तीन प्रकार की अखिल भारतीय सेवायें आयोजीत करवाई जाती हैं.

1. IAS – Indian Administrative Service,
2. IPS – Indian Police Service – (आईपीएस का फुल फॉर्म)
3. IFS -Indian Forest Service

अन्य सेवाओं को Central civil services में रखा जाता है .

सिविल सेवा परीक्षा के लिए हर साल लगभग 6 लाख उम्मीदवार आवेदन करते हैं, लेकिन अंत में केवल 1000 उम्मीदवारों को ही चयनित किया जाता है. आईएस परीक्षा का उत्तीर्ण प्रतिशत बहुत कम होने के बाद भी इसका क्रेज़ अभी तक कम नहीं हुआ है. युवक-युवतियां कई सालों तक मेहनत करते हैं.

आईएएस परीक्षा की योग्यता – IAS Eligibility Criteria

जो लोग देश की सेवा करना चाहते हैं उनके लिए आईएएस परीक्षा की पूरी जानकारी होना बहुत आवश्यक है. जब आपके पास पूरी जानकारी होही तो आप इसकी तयारी भी अच्छी तरह और समय के अनुसार कर सकते हो. तो आइये जानते हैं की एक आईएस ऑफिसर बनने के लिए कौनसी योग्यताएं (IAS Eligibility) आवश्यक हैं.

नागरिकता – IAS Nationality

कुछ लोग समझते हैं कि आईएएस परीक्षा में केवल भारतीय नागरिक ही इस परीक्षा में बैठ सकते हैं. लेकिन आपको जानकर आश्चर्य हो सकता है कि भारत IAS की परीक्षा में तिब्बत, नेपाल और भूटान के नागरिक भी शामिल हो सकते हैं. लेकिन IAS और IPS में भर्ती के लिए, उम्मीदवार को भारत का नागरिक ही होना चाहिए.

आईएएस शैक्षिक योग्यता – IAS Educational Qualification

इस परीक्षा में बैठने के लिए आपको किसी भी विषय में स्नातक होना आवश्यक है. अगर आपने BA, बीकॉम, बीएससी, BTECH जैसी कोई भी स्नातक परीक्षा पास की है तो आप आईएस अधिकारी बन सकते हैं. सबसे बड़ी बात इसमें यह भी है की आपको graduation में न्यूनतम प्रतिशत की भी आवश्यकता नहीं है. बस आपके पास भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से डिग्री होनी चाहिए.

अगर आप स्नातक डिग्री कर रहे हैं और अंतिम वर्ष में हैं तो भी आप आईएएस के लिए आवेदन कर सकते हैं. लेकिन इसके साथ एक शर्त यह है की आपको सत्यापन के समय अपनी मार्कशीट जरुर दिखानी होती है.

आयु कितनी होनी चाहिए – IAS Age Criteria

अगर आप आईएएस परीक्षा में बैठना चाहते हैं तो आपकी आयु कम से कम 21 वर्ष होनी चाहिए. और अगर हम अधिकतम आयु की बात करें तो यह अलग-अलग श्रेणियों के लिए अलग-अलग निर्धारित की गई है.

  • सामान्य वर्ग 32 वर्ष
  • ओबीसी 35 वर्ष
  • एससी और एसटी 37 वर्ष
  • दिव्यांग (PH) कोई सीमा नहीं.

आपको आयु सीमा देखते वक्त इस बात का ध्यान रखना चाहिए की आईएएस परीक्षा की अधिसूचना में आयु की गणना 1 अगस्त से की मानी जाती है.

आईएएस में आरक्षण ?

आईएस परीक्षा में सभी आरक्षित श्रेणियों को नियम अनुसार फायदा दिया जाता है. इसके अतिरिक्त union public service commission (UPSC) ने भारत सरकार द्वारा लागू आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्गों के लिए आरक्षण की व्यवस्था को भी इन श्रेणियों में जोड़ दिया है. सरकार के EWS (Economically Weaker Section) आरक्षण कानून में सामान्य वर्ग के गरीब लोगों को 10% आरक्षण की व्यवस्था की गई है. लेकिन EWS उम्मीदवारों के लिए पात्रता की शर्तों को नहीं बदला गया है और सामान्य उम्मीदवारों की पात्रता शर्तों के साथ गठबंधन किया गया है.

आईएएस अधिकारी के पद ?

आईएस परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवारों को कई तरह के पद दिए जा सकते हैं. जैसे :-

उप जिलाधिकारी – SDM
• जिलाधिकारी – DM
• जिला कलेक्टर
• ज़िला आयुक्त
• मुख्य सचिव
• सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों के प्रमुख
• कैबिनेट सचिव
• चुनाव आयुक्त व् अन्य

हमारे देश में यह सभी पद बहुत ही शक्तिशाली और प्रतिष्ठा के रूप में देखे जाते हैं.

आवेदन कैसे करें –

अगर आप आईएएस की परीक्षा में बैठना चाहते हैं तो आपको UPSC की अधिकारक वेबसाइट पर जाना होगा. जिसकी वेबसाइट है http://www.upsconline.nic.in , यहाँ आपको ऑनलाइन आवेदन करना होता है।

IAS परीक्षा का पैटर्न?

आईएएस सिविल सेवा परीक्षा दो चरणों में आयोजित की जाती है ।

जिसमें पहले प्रारंभिक सिविल सेवा परीक्षा वस्तुनिष्ठ प्रकार की होती है। तथा दूसरी सिविल सेवा की मुख्य परीक्षा में लिखित और उसके बाद साक्षात्कार (इंटरव्यू) के रूप में परीक्षा होती है। दूसरी परीक्षा में केवल वाही लोग बैठ सकते हैं जिन्होंने सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण कर ली हो ।

कितनी बार कर सकते हैं IAS Exam –

IAS Exam देने के लिए आपके पास सिमित अवसर होते हैं. जो निचे दी गई श्रेणी के अनुसार बाँटें गए हैं:-

  • सामान्य श्रेणी (Genral) के उम्मीदवार6 बार ही परीक्षा में बैठ सकते हैं।
  • ओबीसी श्रेणी (OBC) के उम्मीदवार 9 बार आवेदन कर सकते है।
  • SC / ST के उम्मीदवार के लिए कोई सीमा निर्धारित नहीं है।

IAS Exam मुख्य विषय- IAS Syllabus :

IAS EXAM में लगभग सभी विषयों से प्रश्न आते है. जिनमें मुख्य निम्नलिखित है :-

  • सामान्य ज्ञान – General Studies
  • CSAT (Civil Service Aptitude Test)
  • भूगोल – Geography
  • भूगर्भशास्त्र – Geology
  • सार्वजनिक प्रशासन – Public Administration
  • निबंध – Essay

कुछ फेमस IAS ऑफिसर

देश की इतनी बड़ी जिम्मेदारी निभाने के कारण बहुत सारे IAS ऑफिसर अपने कार्यों की वजह से फेमस हो गए हैं. उदाहरण के लिए उत्तराखंड के आईएएस अधिकारी दीपक रावत (deepak rawat ias), उत्तर प्रदेश की आईएएस अधिकारी बी चन्द्र कला और पंजाब के आईएएस अधिकारी सतीश चन्द्र (satish chandra ias). यह लोग समाज हित में कई बार ऐसे कार्य करते हैं कि लोगों इन्हें अपना नायक मानने लगते हैं. इन्हें लोगों से भरपूर प्यार मिलता है. यह लोग घूसखोरों, भ्रष्टाचारियों के लिए एक बड़ी आफत बन जाते हैं. हम अपने ब्लॉग में फेमस IAS ऑफिसरो की जानकारी जल्दी लेकर आयंगे.

निष्कर्ष

आज की पोस्ट में हमने आपको आईएस से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की है. आज आपने जाना कि “आईएएस फुल फॉर्म? IAS Full Form क्या होती है, IAS ka matlab kya hota hai, आईएस अधिकारी के क्या कार्य होते हैं, आईएस ऑफिसर की क्या योग्यता हैं. आशा करते हैं की आपको हमारी यह पोस्ट जरुर पसंद आई होगी. अगर आपके मन में अब भी कोई सवाल हैं तो हमें जरुर लिखें.

हमारी पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें. और अगर आप ऐसी ही उपयोगी जानकारी देखना चाहते हैं तो हमें फॉलो करें.
जय हिन्दजय भारत

इनके फुल फॉर्म भी जानें :